भाई-चारा बढ़ाने के लिये हमें भी वंदे मातरम और राष्ट्रगान से परहेज करना चाहिये : राहुल गांधी

वन्दे मातरम और भारत माता की जय को लेकर उत्तराखंड में राजनैतिक रार तेज़ हो गयी है। उत्तराखंड प्रदेश कांग्रेस ने साफ़ कह दिया है कि चाहे कुछ भी हो जाये कांग्रेसी नेता उत्तराखंड में वन्दे मातरम नहीं गाएगा, और न ही भारत माता की जय बोलेगा। उत्तराखंड प्रदेश कांग्रेस का यह बयान उस वक्त आया है जब प्रदेश सरकार के मंत्री धन सिंह रावत ने कहा था कि प्रदेश में रहने वाले सभी लोगों को वन्दे मातरम गाना पड़ेगा और भारत माता की जय बोलना पड़ेगा।

कांग्रेस की इस अड़ियल बयान से देश को नुकसान पहुंचेगा

बता दें कि धन सिंह रावत ने आधिकारिक घोषणा में यह भी कहा था कि सभी स्कूलों में वन्दे मातरम गाना अनिवार्य होगा, जबकि भारत माता की जय बोलना भी अनिवार्य होगा। प्रदेश सरकार के इस बयान के बाद उत्तराखंड कांग्रेस प्रदेश के अध्यक्ष किशोर उपाध्याय ने कहा कि सरकार इस तरह की तानाशाही कर इसी चीज़ को लोगों पर थोप नहीं सकते। मैं इसकी कड़ी निंदा करता हूँ और ऐलान करता हूँ कि हम किसी भी कार्यक्रम में पुरे एक महीने तक वंदे मातरम नहीं गाएंगे और न ही भारत माता की जय बोलेंगे।

वही कांग्रेस के इस बयान के बाद बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने कहा कांग्रेस इस तरह की घोषणा करके पुराने रीति-रिवाजों को तोड़ रही है। ऐसा करके कांग्रेस कानून को हाथ में ले रही है। जिससे राष्ट्र और समाज का भला नहीं होगा। यदि स्कूल और कॉलेज और कार्यालयों में भारत के राष्ट्र गान और राष्ट्र गीत नहीं गाया जाएगा तो ये राष्ट्र अपमान जैसा होगा।

गौरतलब है कि उत्तराखंड विधान सभा चुनाव में बीजेपी प्रचंड बहुमत से विजयी हुई थी। जिस बाबत उत्तराखंड में त्रिवेणी सिंह रावत की सरकार है। कांग्रेस के इस रवैये कांग्रेस की पोल खुल गयी है कि वो मुस्लिम मोह से दूर नहीं होना चाहती है। आज देश की ये हालत कांग्रेस की देन है। यदि कांग्रेस सच्ची निष्ठा से देश प्रेम करते हुए देश की सेवा की होती तो आज देश खुशहाल और सम्पन्न होता। कांग्रेस की इस अड़ियल बयान से देश को नुकसान पहुंचेगा।

source- http://indianakhbar.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *