शतक लगाकर कोहली ने बनाया एक और ‘विराट’ रिकॉर्ड, निकले दुनिया में सबसे आगे

नई दिल्ली, प्रदीप सहगल [जागरण स्पेशल]। भारत और न्यूज़ीलैंड के बीच कानपुर में खेले जा रहे तीसरे वनडे मैच में विराट कोहली ने एक और शतक जमा दिया। इस सीरीज़ में ये उनका दूसरा शतक रहा। इससे पहले उन्होंने मुंबई के वानखेडें मैदान पर भी दामदार सेंचुरी लगाई थी। ये विराट कोहली के वनडे करियर का 32वां शतक रहा। इस पारी के दौरान कोहली ने और भी बहुत से रिकॉर्ड बनाए।
कोहली ने फिर खेली कमाल की पारी
इस साल का ये कोहली का छठा शतक रहा। कोहली ने ये सेंचुरी जमाने के लिए 96 गेंदों का सामना किया। इस पारी के दौरान उन्होंने 8 चौके और एक दमदार सिक्स भी लगाया। इस इनिंग  के दौरान कोहली ने रोहित शर्मा के साथ मिलकर 230 रन की साझेदारी करते हुए भारतीय टीम को इस निर्णायक मैच में मजबूत स्थिति में पहुंचाया। इस मैच में कोहली 106 गेंदों में 113 रन बनाकर आउट हो गए, लेकिन आउट होने से पहले वो भारत के स्कोर को 300 रन से पार करवा गए थे।
कोहली निकले सबसे आगे
इस शतकीय पारी के दौरान विराट कोहली ने एक ऐसी उपलब्धि अपने नामं कर ली, जो दुनिया का कोई भी बल्लेबाज़ अभी तक अपने नाम नहीं कर पाया था। इस पारी में वो सबसे तेज़ 9000 वनडे रन बनाने वाले खिलाड़ी बन गए। कोहली ने ये उपलब्धि 194 पारी खेलकर अपने नाम की। इससे पहले सबसे तेज़ 9 हजारी बनने का रिकॉर्ड ए बी डिविलियर्स के नाम था। उन्होंने 205 पारी खेलकर ये रिकॉर्ड दर्ज किया था। लेकिन कोहली अब इस मामले में डिविलियर्स को पछाड़कर सबसे आगे निकल गए हैं।
कोहली ने द्रविड़ को भी छोड़ा पीछे
भारत के लिए सबसे ज़्यादा इंटरनेश्नल शतक जमाने में सचिन तेंदुलकर के बाद अब विराट कोहली का नाम आ गया है। इस लिस्ट में पहले सचिन के बाद राहुल द्रविड़ का नाम आता था, लेकिन कानपुर में सैंकड़ा जमाकर कोहली ने द्रविड़ को पीछे छोड़ दिया। भारत के पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ के नाम भारत के लिए खेलते हुए 48 शतक थे और कोहली ने इस पारी में उन्हें पीछे छोड़ते हुए 49 शतक जमा दिए हैं। इस लिस्ट में सबसे ऊपर नाम  सचिन तेंदुलकर का है और उनके नाम 100 इंटरनेशनल शतक का रिकॉर्ड है।
कोहली ने तोड़ दिया अपनी भी रिकॉर्ड
कोहली ने इस पारी के दौरान अपने ही एक रिकॉर्ड को पीछे छोड़ दिया। इससे पहले विराट कोहली ने सन 2011 वनडे क्रिकेट में एक साल में सबसे ज़्यादा 1381 रन बनाए थे। लेकिन इस पारी के दौरान उन्होंने अपने इस कीर्तिमान को भी तोड़ दिया। अब साल 2017 में कोहली 1460 रन बना चुके हैं और ये विराट कोहली के वनडे करियर में एक साल में सबसे ज़्यादा रन हैं। इस पारी से पहले उन्हें इस कीर्तिमान तो तोड़ने के लिए 35 रन की जरुरत थी। जो उन्होंने बड़ी आसानी के साथ हासिल कर लिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *