पाकिस्तानी नागरिक ने हासिल कर लिया पैन और आधार कार्ड, हिन्दू पुजारी बनकर रहा था भारत में!

हरियाणा के झज्जर में एक संदिग्ध पाकिस्तानी को हिरासत में लिया गया है जो बीते कुछ सालों से पुलिस, सुरक्षा एजेंसियों और स्थानीय लोगों की आंख में धूल झोंक कर रह रहा था. यह संदिग्ध व्यक्ति पाकिस्तान का नागरिक है और इसके पास भारत में जारी आधार कार्ड, पैन कार्ड और वोटर आईडी कार्ड भी है. यह व्यक्ति झज्जर में अपनी पहचान बदलकर लम्बे समय से रह रहा था. झज्जर के बहादुरगढ़ क्षेत्र में यह एक मंदिर में रह रहा था. इसके सम्बन्ध में पुलिस अभी ज्यादा जानकारी जुटा रही है और जांच जारी है.
मंदिर में रह रहा था पाकिस्तानी नागरिक :
आपको बता दें कि यह पाकिस्तानी नागरिक हरियाणा के झज्जर में साल 2013 से ही रासराज के नाम से रह रहा था, यह यहां इस्कॉन मंदिर में स्वयंसेवक के तौर पर अपनी सेवा दे रहा था. मंदिर के पुजारी के अनुसार वह यहां रासराज दास राजपूत के नाम से रह रहा था. बीती शाम सुरक्षा एजेंसियों और आईबी की टीम के साथ पुलिस ने मंदिर पहुंचकर उससे पूछताछ शुरू की. पुलिस के मुताबिक पूछताछ में पता चला है कि वह भले ही पाकिस्तानी नागरिक है मगर पाकिस्तान में हो रहे अत्याचारों से तंग आकर भारत में रहना चाहता है, और इसलिए वह भारत चला आया.
आपको बता दें कि इसकी जानकारी तब हुई जब बीते दिनों यह व्यक्ति पाकिस्तान से आये अपने कुछ साथियों से मिलने पहुंचा था. तभी से यह व्यक्ति सुरक्षा एजेंसियों के निशाने पर आया और आईबी और सुरक्षा एजेंसी की जांच में इसके बारे में जानकारी मिली. शुरूआती जांच में इस व्यक्ति के पास कुछ दस्तावेज मिले हैं जिनमें भारत का वीजा और पाकिस्तान का वोटर आईडी कार्ड भी शामिल है, हालांकि उसका वीजा काफी पहले ही एक्सपायर हो चुका है.
भारत सरकार द्वारा उसे जारी किये गए 33 दिन के वीजा में उसका नाम राजा और पता लरकान हिन्दू कॉलोनी लिखा है, जांच के दौरान पता चला है कि वह पाकिस्तान के सिंध प्रान्त का रहने वाला है. साथ ही उसके सभी दस्तावेजों में उसका नाम अलग अलग लिखा है और उसके पास से बरामद पासपोर्ट में उसकी जन्मतिथि 1 जनवरी 1978 लिखी है जबकि भारत के आधार कार्ड और पैन कार्ड में उसकी जन्मतिथि 13 मार्च 1987 लिखी है. इसके अलावा उसके पास एक ऐसा वोटर आईडी कार्ड भी मिला है जिसमें उसका पता भारत की राजधानी दिल्ली का छावला इलाका लिखा है.
फिलहाल पुलिस ने इस पाकिस्तानी नागरिक को हिरासत में ले लिया है और अभी जांच जारी है. बताया जा रहा है कि अभी तक प्राथमिकी नहीं दर्ज की गयी है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *