मंदसौर में किसानों पर फायरिंग को लेकर राहुल गांधी का ट्वीट- हक मांगने पर अन्नदाता को मिलती हैं गोलियां

नई दिल्ली: मध्य प्रदेश से लेकर महाराष्ट्र तक किसान सड़कों पर हैं. मध्य प्रदेश के मंदसौर जिले के पिपलियामंडी में मंगलवार की हिंसा में 5 किसानों के मारे जाने के बाद यहां कर्फ्यू लगा दिया गया है. वहीं कांग्रेस ने राज्य में कई संगठनों द्वारा बुलाए गए बंद का समर्थन किया है. राहुल गांधी आज मंदसौर भी जा सकते हैं. इस मामले को लेकर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट भी किया है कि BJP के न्यू इंडिया में हक़ मांगने पर हमारे अन्नदाताओं को गोली मिलती है?
वहीं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्वजिय सिंह ने भी शिवराज सिंह चौहान पर निशाना साधते हुए कहा है कि ये तथाकथित किसान पुत्र न संघ का सगा है न किसान का सगा है न बीजेपी का सगा है , यह सिर्फ़ स्वयं का सगा है. यही नहीं दिग्विजय सिंह ने कहा कि मैं सभी व्यापारियों से दुकानें बंद करने की अपील करता हूं. बंद सफल हो उसकी मध्य प्रदेश की जनता से मांग करता हूं.

उल्लेखनीय है कि मंगलवार की हिंसा के बाद मंदसौर के साथ-साथ रतलाम, नीमच ज़िले में मोबाइल इंटरनेट पर रोक लगा दी गई है ताकि अफवाहों से बचा जा सके. पूरे मंदसौर जिले में धारा 144 लगाई गई है. विरोध कर रहे किसान अपनी फसलों के लिए ज़्यादा समर्थन मूल्य समेत 20 सूत्रीय मांगों को लेकर आंदोलन कर रहे हैं. सरकार दावा कर रही है कि पुलिस ने फायरिंग की ही नहीं. इधर, मृतक के परिवारवाले अंतिम संस्कार को राज़ी हो गए हैं. पहले वे सीएम के आने की मांग कर रहे थे. मरने वाले किसानों के परिवारों को दिए जाने वाला मुआवज़ा 10 लाख से 10 गुना बढ़ाकर एक करोड़ कर दिया गया है. मुख्यमंत्री ने इस मामले में कांग्रेस पर किसानों को भड़काने का आरोप लगाया है. शिवराज सिंह चौहान ने लोगों से शांति की अपील की है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *